Vakt-shayari-1.jpg

Vakt shayari:– 

वक़्त किसी का इंतज़ार नहीं करते ब्लकि हम या तो वक़्त के साथ चलते हैं या पीछे रह जाते हैं, हमेशा वक़्त एक सा नहीं रहता, कभी हसा देता है तो कभी रुला देता है, इसी लिए दिलों की कुछ यादें एसी होती है कि हम उसे अपनी आखिरी साँस तक नहीं भूला पाते, कुछ वक़्त के ज़ख्म अपनों के होते हैं तो कुछ अनजान जिन्हें हम भूल नहीं पाते,

Vakt kya hai :-

ये वक़्त क्या है
ये क्या है आख़िर कि जो मुसलसल गुज़र रहा है
ये जब न गुज़रा था
तब कहां था
कहीं तो होगा
गुज़र गया है
तो अब कहां है
कहीं तो होगा
कहां से आया किधर गया है
ये कब से कब तक का सिलसिला है
ये वक़्त क्या है

Written by:- Jawed Akhter.
vakt shayari के इस संग्रह में आपको ढेर सारी sayariya मिल जाएगी, Pyar par vakt shayari, tute dil ki yade, vakt poatry, जिन्हें आप महसूस करेंगे कि एक wakt mera भी एसा था, किसी न किसी को जिंदगी एक बार मोहब्बत जरूर होती है पर वह मिलती है या नहीं, ये वक़्त की बात है, ये vakt shayari बिल्कुल ही यूनिक और Heart touching है, इसे पढ़े और कुछ भूली बिसरी यादों को ताजा करे, और इसे download करे और अपने social media पर share करें ।

Sad vakt shayari 2 line

वक़्त ज़रा ठहर कुछ पल बीता दु उसके साथ,

फ़िर यादें ही तो रहेगी उनसे बिछड़ने के बाद!!

Sad vakt shayari 2 line

E vaqt zara thahar kuchh pal bita du usake sath,

 fir yade hi to rahegi unase bichhadane ke bad!!

वो वक़्त अब ना आएगा हम ज़िक्र किया करते थे,

जो पल भर ना देखे तो तुम्हारी फिक्र किया करते थे.

हम तो अब भी वहीं है पर तुम, तुम ना रहें..

कहा गए वों वादे जो तुम मुझसे किया करते थे।।

Vakt-shayari-free image-download

दिल टूटा है कुछ वक़्त तो लगेगा ग़ालिब..

ये इश्क तो नहीं कि एक पल में हों जाए!!

Dil tuta hai kuchh vaqt to lagega gaalib..

Ye ishk to nahin ki ek pal mein hon jae!!

Love vakt shayari free download image

वक़्त की ये लकीरें  कभी ना मिटेगी,

सोचा था कि एक वक़्त गूजर जाने के बाद तो लौटेंगी,

उम्र गूजर गई जो कह गया कि कुछ दिनों में आते हैं,

ना वक़्त आया ना वों, कुछ रातें बची है सो तन्हा गुज़रेगी॥

Vakt-shayari--www.shayari-love-me.com

Vaqt ki ye lakeeren  kabhi na mitegi,

Socha tha ki ek vaqt gujar jane ke bad to lautengi,

Umr gujar gai jo kah gaya ki kuchh dino me aate hai,

Na vaqt aaya na von, kuchh raate bachi hai so tanha guzaregi.

भर देता है वक़्त सारे ज़ख्मों को..

बस भुला  नहीं पाते है कुछ लम्हों को

जो अगर होती पूरी हर आरज़ू दिल की..

तो कोन सम्हालता वक़्त के इन बिखरे पन्नों को॥

गुजरे वक़्त को अगर हमनें भुला दिया होता,

इन अँधेरी रातों में भी कई सकूं पा लिया होता

एक हसरत थी उनसे बेइंतिहा मोहब्बत की..

काश उनके इरादों को इस दिल ने जान लिया होता!!

Gujare vaqt ko agar hamanen bhula diya hota,

In andheri rato me bhi kai sakoon pa liya hota

Ek hasarat thee unase beintiha mohabbat kee..

Kash unake iraadon ko is dil ne jaan liya hota!!

बे वक़्त ही आ जाती है तुम्हारी यादे ग़ालिब

हमें तो पता ही नहीं की हम सोए कब थे!!

Vakt-shayari--www.shayari-love-me.com

Be vaqt hi aa jaati hai tumhaari yade gaalib,

Hamen to pata hi nahin ki ham soe kab the!!

मोहब्बत पर वक़्त shayari

बस हमीं से पूछे गए सबूत ए वफा के…

जो अगर उनसे जान लेते तो जिन्दगी की किताब में नकी मोहब्बत का ज़िक्र भी ना होता!

Vakt-shayari-free photo-www.shayari-love-me.com

Bas hamen se puchhe gaye sabut e wafa ke…

Jo agar unase jaan lete to jindagi ki kitab to unki mohbbat ka  zikr bhee na hota!

जो हसते थे कभी मेरे वक़्त पर...

आज हमनें उन्हें रोते हुए देखा है।

ए वक़्त ज़रा ठहर कुछ पल बीता दु उसके साथ,

फ़िर यादें ही तो रहेगी उनसे बिछड़ने के बाद!!

ना ही वक्त ठहरा ना उन्होंने इंतजार किया,

ना कभी वक़्त हमारा हुआ ना ही वो..

Dhokha vakt shayari

ना दिल में कोई आरज़ू थी ना तेरे लिए फ़रेब,

इसे मेरा वक़्त समझ लेना मेरे ख़ाली थे जेब!!

तूझे रखता भी कहा मेरा ना कोई आशियाना था

मीट गए नामों निशा मेरे बस तेरी यादों से जुड़ा रहना था!!

भूलें तुम भी नहीं अब तक मुझे, कुछ यादें ताजा कर दे,

सब कुछ ले ले मुझसे पर एक वादा कर दे

तुझसे बिछड़ कर  बस मिले हैं ग़म सौगत में,

गले से लगा ले  और सारे ज़ख्मों को मिटा दे!

vo vaqt ab na aaega ham zikr kiya karate the,

Jo pal bhar na dekhe to tumhari phikr kiya karate the.

Ham to ab bhi vahin hai par tum, tum na rahen..

Kaha gaye von vade jo tum mujhase kiya karate the..

Sad poetry on vakt

वो वक़्त के हालात जिसे मैं कभी बदल ना पाया..

तेरा ही था मै पर कभी तेरा हो ना पाया..

वो बोलीं हाँ खिलाफ़ थे अपने हमारे..

पर तुने कौनसा मेरा साथ निभाया, 

वों हालत कभी मुझे इजाजत ना देते

जब भी कोशिश की मेंने, एक नया ज़ख्म पाया,

उसने पूछा क्या तुमने कभी सोचा नहीं

या मुझे याद करने का कोई वक़्त ना आया,

मैंने कहा भूले ही कब थे जो तूझे याद करते

बस तेरी मोहब्बत नें एक एसा क़हर ढाया…

ऊपर आसमा और नीचे ज़मी को पाया,

वों बोली ज़िक्र करते हों तुम तूफ़ान का

क्यों तुम्हें  कभी मेरा ख्याल ना आया,

मैंने कहा ख्याल बस एक तेरा ही रहा

पर अपनों को ना भूल पाया,

ना सेहरा ना समंदर ना तूफ़ान का साया,

जो कहर तेरे अपनों ने बरसाया, 

नसीब में ना रहीं तेरी मोहब्बत..बदले में मेरे ज़ख्मों का साया,

उसने कहा केसे सह लिया तुमने.. ये सब कुछ

मैंने कहा  सब घावों को मेरे अब वक़्त भर आया..

बड़ी गहरी आवाज साथ में आसुओं का समन्दर और…

वो बोली सुना है तुम भी किसी के ना रहें,

तुम मुझे भुला ना पाए या कोई तुम्हारा हो ना पाया,

मैने कहा केसे होता अपना कोई..

जिसने भी दिल में झांका बस तुझे ही पाया!!

वो वक़्त भी गूजर गया ये वक़्त भी गूजर जाएगा,

वों काफ़िला भी गुजर गया ये काफ़िला भी गूजर जाएगा,

ना कर सितम बेसहारो पर अपनी शान और शौकत से..

 हथेलियां भी ख़ाली रहेगी जब तूझे घाट पर ले  जाएगा।।

Vo vaqt bhi gujar gaya, ye vaqt bhi gujar jayga,

Von kaafila bhi gujar gaya ye kaafila bhi gujar jayga,

Na kar sitam besaharo par apani shan aur shaukat se..

 Hatheliyaan bhi khali rahegi jab tujhe ghaat par le  jayga..

Apne vakt shayari 

बदलते वक़्त ने अपनों का आईना दिखा दिया…

कीमत नहीं इंसान की यहां पैसो से अरमानों को तोल दिया॥

2 line vakt shayari

आज तेरा है तो वक़्त कल मेरा भी आएगा..

आज गुरुर है तूझे कल चेहरा शर्म से झुक जाएगा!!

ना चाँद से रोशनी होती है और ना सूरज से अंधेरा..

ये तो वक़्त का खेल है कभी तेरा तो कभी मेरा।।

Vakt-shayari--www.shayari-love-me.com

नोटः vakt shayari अगर आपको पसंद आयी हो तो comment करके हमें जरूर बताये और अपने social media पर share jarur kare, हमारे YouTube chennal tunes of Love पर आपको shayari की वीडियो मिल जाएगी धन्यवाद!!

Read our best shayari collection..

2 line shayari on life

One thought on “25 best love ke kisse Vakt shayari। वक़्त शायरी।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *